Goddess Saraswati , Ma Saraswati


जय माँ सरस्वती , read in english

माँ सरस्वती की आरती की पेशकश का मुख्य उद्देश्य
माँ सरस्वती को ज्ञान का भण्डार कहा गया है यह ज्ञान की देवी है| हिंदू धर्म में माता सरस्वती जी को सर्वोपरि माना गया है| ऐसा माना जाता है कि माँ सरस्वती जी की आरती गाने से हमें बुद्धि तथा ज्ञान मिलता है| उनकी भक्ति करने तथा आरती गाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं| माता सरस्वती की आरती का अत्यंत विशेष महत्व है|


ॐ जय सरस्वती माता, जय जय सरस्वती माता
सदगुण वैभव शालिनी, सदगुण वैभव शालिनी
त्रिभुवन विख्याता, जय सरस्वती माता

ॐ जय सरस्वती माता, जय जय सरस्वती माता
सदगुण वैभव शालिनी, सदगुण वैभव शालिनी
त्रिभुवन विख्याता, जय सरस्वती माता

चन्द्रवदनि पद्मासिनि, द्युति मंगलकारी
सोहे शुभ हंस सवारी, अतुल तेजधारी
जय सरस्वती माता

बाएं कर में वीणा, दाएं कर माला
शीश मुकुट मणि सोहे, गल मोतियन माला
जय सरस्वती माता

देवी शरण जो आए, उनका उद्धार किया
पैठी मंथरा दासी, रावण संहार किया
जय सरस्वती माता

विद्या ज्ञान प्रदायिनि, ज्ञान प्रकाश भरो
मोह अज्ञान और तिमिर का, जग से नाश करो
जय सरस्वती माता

धूप दीप फल मेवा, माँ स्वीकार करो
ज्ञानचक्षु दे माता, जग निस्तार करो
जय सरस्वती माता

माँ सरस्वती की आरती, जो कोई जन गावे
हितकारी सुखकारी ज्ञान भक्ति पावे
जय सरस्वती माता
जय सरस्वती माता, जय जय सरस्वती माता
सदगुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता
जय सरस्वती माता